'हिमधारा' हिमाचल प्रदेश के शौकिया और अव्‍यवसायिक ब्‍लोगर्स का मंच

क्या हिन्दी ब्लॉगजगत सचमुच बच्चा है जी ?

16.5.120 पाठकों के सुझाव और विचार

क्या हिन्दी ब्लॉगजगत सचमुच बच्चा है जी ?


जहां तक मेरी जानकारी मे है कि हिंदी ब्लोगिंग की शुरुआत 02 मार्च 2003 को हुई थी और हिंदी का पहला अधिकृत ब्लॉग होने का सौभाग्य प्राप्त है नौ दो ग्यारह को । इसप्रकार फरवरी 2013 मे दशक पूरा हो रहा है । यानि अगले वर्ष हम नए दशक मे प्रवेश कर रहे हैं और इस हिसाब से यह वर्ष दशक का आखिरी वर्ष है । यह तो प्रामाणिक तौर पर कहा जा सकता है, किन्तु ये सभी जानते हैं कि उसके पहले भी अंतर्जाल पर किसी न किसी रूप मे हिन्दी को नया आयाम देने की दिशा मे कार्य किए गए । 

यहाँ तक कि वर्ष-2000 मे हिन्दी की पहली वेब पत्रिका अभिव्यक्ति का प्रकाशन शुरू हो गया था और इस हिसाब से यह वर्ष अंतर्जाल पर हिन्दी की हलचलों के लिहाज से तेरहवाँ वर्ष है । पहले वाली प्रामाणिकता को ही यदि लेकर चला जाये तो इस दशक के समापन मे केवल आठ-नौ माह शेष है ।
  पिछले पोस्ट में कुछ ऐसी टिप्पणियाँ पढ़ने को मिली,जिसमें एक चर्चित महिला ब्लॉगर के द्वारा कहा गया कि “दशक पूरा होने में अभी 3 साल होंगे कम-से कम ।“ उनकी यह गणना ब्लॉग पर उनके स्वयं के अवतरण वर्ष से है या फिर कुछ और, मैं नहीं जानता । एक ब्लॉगर ने तो वोट के लोकतान्त्रिक व्यवस्था पर ही आपत्ति दर्ज कर दी, जबकि पूरी दुनिया चुनाव की लोकतान्त्रिक व्यवस्था को श्रेष्ठ व्यवस्था की संज्ञा देती है । किसी ने कहा कि लिस्ट छोटी कर दी आपने । उनके लिए मेरी कैफियत यह है कि मैंने अदर का विकल्प इसलिए दिया है ताकि आप यदि इन ब्लॉगरों के नाम से असहमत हैं तो  अपनी पसंद के ब्लोगर का नाम अंकित कर दें । जो चुनाव की लोकतान्त्रिक व्यवस्था पर अपनी असहमति व्यक्त कर रहे हैं, वे शायद भूल रहे हैं कि ब्लॉग भी अभिव्यक्ति की लोकतान्त्रिक व्यवस्था का ही एक हिस्सा है । 

खैर छोड़िए, आइये विगत 48 घंटों में प्राप्त रुझान पर नज़र डालते हैं : 
 क्र. सं. 
दशक का हिन्दी चिट्ठाकार
 क्र. सं. 
दशक का हिन्दी चिट्ठा
1
समीर लाल समीर 
1
उड़न तश्तरी    
2
रवि रतलामी 
2
ब्लॉगस  इन  मीडिया  
3
 रंजना रंजू भाटिया  
3
फ़ुरसतिया 
4
अनूप शुक्ल 
4
भड़ास    
5
पूर्णिमा वर्मन 
5
साइंस  ब्लोगर असोसिएशन     
6
 दिनेश राय द्विवेदी  
6
अज़दक 
7
बी एस पावला
7
छींटें  और बौछारें     
8
सतीश सक्सेना
8
तीसरा  खंबा    
 9
कविता  वाचक्नवी 
 9
साई  ब्लॉग  
10
शास्त्री जे सी फिलिप
10
नारी 
दृष्टव्य : अड़तालीस घंटे की प्राप्त रुझान मे जहां विगत चौबीस घंटे की तुलना में समीर लाल समीर और उनका ब्लॉग उड़न तश्तरी प्रथम स्थान पर विराजमान है, वहीं मतदाताओं ने लिस्ट में शामिल कई नामों क्रमश: जितेंद्र चौधरी, आशीष श्रीवास्तव और सुनील दीपक को शीर्ष दस के वरीयता क्रम से बाहर करते हुये नए नाम क्रमश: दिनेश राय द्विवेदी, बी॰एस॰पावला और शास्त्री जे सी फिलिप  पर अपनी सहमति व्यक्त की है। इसी प्रकार मतदाताओं ने लिस्ट में शामिल कई चिट्ठों क्रमश: मेरा पन्ना,जो न कह सके ब्लॉग को शीर्ष दस के वरीयता क्रम से बाहर करते हुये नए नाम क्रमश: अजदक और तीसरा खंबा पर अपनी सहमति व्यक्त की है। 

अब देखना है कि अगले चौबीस घंटे मे उलटफेर की क्या स्थिति बनती है ?

तो देर न करें वोटिंग लाइन अभी चालू है, इस लिंक पर जाकर अपने प्रिय ब्लॉगर को अवश्य वोट दें । याद रखें आपका वोट हमारे लिए महत्वपूर्ण है।

Share this article :

एक टिप्पणी भेजें

हिमधारा हिमाचल प्रदेश के शौकिया और अव्‍यवसायिक ब्‍लोगर्स की अभिव्‍याक्ति का मंच है।
हिमधारा के पाठक और टिप्पणीकार के रुप में आपका स्वागत है! आपके सुझावों से हमें प्रोत्साहन मिलता है कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का प्रयॊग न करें।
हिमधारा में प्रकाशित होने वाली खबरों से हिमधारा का सहमत होना अनिवार्य नहीं है, न ही किसी खबर की जिम्मेदारी लेने के लिए बाध्य हैं।

Materials posted in Himdhara are not moderated, HIMDHARA is not responsible for the views, opinions and content posted by the conrtibutors and readers.