'हिमधारा' हिमाचल प्रदेश के शौकिया और अव्‍यवसायिक ब्‍लोगर्स का मंच

बेशर्मीं की हद तक

5.9.111पाठकों के सुझाव और विचार



राखी सांवत
 दिल्ली (रिपोर्टर दीपक कुल्लुवी) : बेशर्मीं की हद तक अश्लीलता और फूहड़ता परोसता राखी सावंत का बेहद घटिया एक थर्ड क्लास प्रोग्राम 'अजब देश की गजब कहानियां' ' एन0 डी0 टी0 वी0 इमेजन' टी0 वी० पर आ रहा है आजकल जिसे देखकर आपकी आँखें शर्म से झुक जाएंगी I राखी को बेशर्मों की तरह बेवाकी से बोलना और अपना बदन दिखाने से ज्यादा कुछ आता तो दुनियां उसपर इतना हंसती नहीं उसका मजाक नहीं उड़ाती I उस बेचारी को शायद यह लगता है की वो ऐसे प्रोग्राम दिखाकर बाहवाही लूटेगी प्रसिद्ध हो जाएगी उस बदनसीब को क्या पता कि लोग उसके घटियापन की तारीफ नहीं वल्कि मजाक ही उड़ायेंगे I लोग उसकी भड़कीली ड्रैस और उसके दिलचस्प अंदाज़-ए-वयां को सिर्फ एक निम्न स्तर की अभिनेत्री से ज्यादा कुछ भी नहीं समझ सकते I और जो गिने चुनें लोग उसे अच्छा समझते होंगे वो मेरी नज़रों में उससे भी ज्यादा घटिया हैं I एक सामाजिक परिवार ऐसे प्रोग्राम कभी भी साथ बैठकर नहीं देख सकता I अपनें बच्चों के सामने शर्मसार होना पड़ेगा I चैनल वाले राखी के घटियापन का भरपूर फायदा उठा रहे हैं क्योंकि ऐसे घटिया प्रोग्राम देखने वाले दर्शकों की भी कमीं नहीं I देश, दुनियां,समाज, बेशक जाए भाड़ में 'राखी' को इससे क्या लेना उसे तो पैसा चाहिए सस्ती लोकप्रियता चाहिए वोह खूब मिलेगा मिलता रहेगा I

यह सरकार कि ही जिम्मेदारी है कि है कि ऐसे धटिया प्रोग्रामों के प्रसारण पर रोक लगे I सेंसर बोर्ड क्या सिर्फ अश्लील फिल्मों को रोकने के लिए बना है ?
बेशर्मों के इतिहास में राखी सावंत नाम भी इक दिन आएगा ज़रूर उसपे तो यह बात ठीक बैठती है I
बुरे हुए तो क्या नाम न होगा I

दीपक शर्मा कुल्लुवी
09136211486
05 -09 -11 .

Share this article :

+ पाठकों के सुझाव और विचार + 1 पाठकों के सुझाव और विचार

एक टिप्पणी भेजें

हिमधारा हिमाचल प्रदेश के शौकिया और अव्‍यवसायिक ब्‍लोगर्स की अभिव्‍याक्ति का मंच है।
हिमधारा के पाठक और टिप्पणीकार के रुप में आपका स्वागत है! आपके सुझावों से हमें प्रोत्साहन मिलता है कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का प्रयॊग न करें।
हिमधारा में प्रकाशित होने वाली खबरों से हिमधारा का सहमत होना अनिवार्य नहीं है, न ही किसी खबर की जिम्मेदारी लेने के लिए बाध्य हैं।

Materials posted in Himdhara are not moderated, HIMDHARA is not responsible for the views, opinions and content posted by the conrtibutors and readers.