'हिमधारा' हिमाचल प्रदेश के शौकिया और अव्‍यवसायिक ब्‍लोगर्स का मंच

आखरी पन्नें -15 लेखक दीपक शर्मा 'कुल्लुवी'

24.1.110 पाठकों के सुझाव और विचार

आखरी पन्नें -15
लेखक दीपक शर्मा 'कुल्लुवी'
गतांक-14 से आगे

(गणतंत्र दिवस)

26 जनवरी का महत्त्व केवल सुन्दर सुन्दर झांकियों से सुस्सजित परेड़,रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम ,खुशियाँ और मिठाई तक ही सीमित नहीं है बल्कि इसका महत्त्व इस के पीछे की दर्दनाक उस दास्तान से है जिसमें त्याग,बलिदान की एक लम्बी गौरब गाथा छुपी हुई है जिसने हमें आज़ादी दिलवायी और आज हम हिंदुस्तान में अपनीं मर्ज़ी के मालिक हैं I हम पर कोई रोक टोक नहीं है आज हम आज़ादी की सांस ले रहे हैं I बेरोक टोक कहीं पर भी आ जा सकते हैं I कोई भी धर्म अपना सकते हैं I हम पर कोई पाबंदी नहीं है I आज हम गुलामी की जंजीरों से आज़ाद हो चुके हैं I हमारे शहीदों नें खून की होली खेलकर हमें आज़ादी दिलवाई है अब यह हमारा फ़र्ज़ है की इसे बरकरार रखें I

जय हिंद
------
हँसते हँसते चूमा जिसनें
भी फाँसी का फंदा
नमन करता उन वीरों को
लहराता झंडा तिरंगा
--------
तिरंगे की है शान निराली
हिंद की जनता है भोली भाली
लुटिया डुबो दी हिंद नें उसकी
बुरी नज़र जिसनें भी डाली
-------
हम हैं हिंद के वासी
हमको गर्व है अपनें शहीदों पर
हमारी आज़ादी की खातिर जिसनें भी
गोली खायी है सीनें पर
---------
तिरंगे झंडे की खातिर
हम सर अपना कटवा लेंगे
आंच न आने देंगे हिंद पर
गोली सीने पर खा लेंगे
------
गणतंत्र दिवस का अद्भुत मौक़ा
जब जब आएगा
बलिदान दिया जिन शहीदों नें
उनकी याद दिलाएगा
--------
याद करो उन शहीदों को
लाज हिंद की जिसनें बचाई है
अपनें सीने पर खाकर गोली
आज़ादी हमें दिलवायी है
------
26 जनवरी आयी भाइयो
नाच्च्दे गांदे खुशियाँ मना
होस्सदे होस्सदे झूल्ले जो फाँसी ने
तिन्हारी यादा ने शीश झुका
------
नमन करो ऐ-हिंद के लोगो
श्रद्धा सुमन करो अर्पित तुम
उनको मिला क्या जीवन देकर
याद करो उन सबके गुण
-----
भाषण देइये किच्छ नी होणा
आज़ादी री मशाल जलाईए रख
दुशमणी देखी केरदा कौसी सैंगे
पर दुशमणा ने देश बचाईऐ रख
------
Don't fight with anyone
But come forward to save the nation
If you are unsafe
Don't hesitate to take the action
-----
We are safe
If we are brave
We are lucky
Our martyrs were great
------
JAI HIND

दीपक शर्मा कुल्लुवी
09136211486
24 -01 -2011

शेष अगले -16 अंक में



Share this article :

एक टिप्पणी भेजें

हिमधारा हिमाचल प्रदेश के शौकिया और अव्‍यवसायिक ब्‍लोगर्स की अभिव्‍याक्ति का मंच है।
हिमधारा के पाठक और टिप्पणीकार के रुप में आपका स्वागत है! आपके सुझावों से हमें प्रोत्साहन मिलता है कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का प्रयॊग न करें।
हिमधारा में प्रकाशित होने वाली खबरों से हिमधारा का सहमत होना अनिवार्य नहीं है, न ही किसी खबर की जिम्मेदारी लेने के लिए बाध्य हैं।

Materials posted in Himdhara are not moderated, HIMDHARA is not responsible for the views, opinions and content posted by the conrtibutors and readers.