'हिमधारा' हिमाचल प्रदेश के शौकिया और अव्‍यवसायिक ब्‍लोगर्स का मंच

क्या है भगवा आतंकवाद ?

3.9.101पाठकों के सुझाव और विचार

जर्मन नाजीवादी विचारधारा से ओत-प्रोत हमारे देश के हिन्दुवत्व वादी संगठन द्वारा आतंक फैलाने की कार्यवाहियों को भगवा आतंकवाद कहते हैंनादेड से लेकर मालेगाँव, मक्का मस्जिद, दिल्ली के बम धमाके, मडगांव, कानपुर में भगवा आतंकवादियों ने बम विस्फोट कर के आतंक फैलाने का काम किया काफी लोग मारे भी गएलोकसंघर्ष ब्लॉग ने इस विषय पर कई बार जब लिखा तो भगवा अतंकवादियो के पिट्ठू ब्लोगर्स ने गालियाँ तक लिखी

आज भारत सरकार ने भी मान लिया है कि देश में अशांति फ़ैलाने के लिए भगवा आतंकवाद सक्रिय है, जिसके ऊपर ध्यान देने की जरूरत है। राज्यों के पुलिस महानिदेशकों की तीन दिवसीय बैठक को संबोधित करते हुए गृह मंत्री श्री चिदंबरम ने कहा कि देश में भगवा आतंकवाद भी है। इस समय अमेरिकन साम्राज्यवादी शक्तियां इस देश कि एकता और अखंडता को तहस नहस करने के लिए धार्मिक उन्माद फैला कर गृह युद्ध की स्तिथि पैदा करना चाहती हैं । इस देश में हिन्दुवत्व वादी लोग अमेरिकन साम्राज्यवादियो के एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं।
सितम्बर माह में उत्तर प्रदेश में बाबरी मस्जिद प्रकरण पर माननीय उच्च न्यायलय का फैसला आने वाला है हिन्दुवत्व वादी विचारधारा के मानने वाले भगवा आतंकवादी भारी पैमाने पर अशांति फ़ैलाने के लिए जुगाली करना शुरू कर दिए हैं। चिट्ठा जगत में भी भगवा आतंकियों के प्रतिनिधि अर्धसत्यों व अफवाहों का सहारा लेकर उन्माद फैलाने की चेष्ठा में लगे हुए हैं।
भारत एक बहुजातीय, बहुभाषीय, बहुधर्मीय देश है। इसकी एकता और अखंडता सबको मिलकर चलने में ही है जो भी इन सब मुद्दों को लेकर विवाद खड़ा करने की कोशिश करते हैं वह लोग निश्चित रूप से देश की एकता और अखंडता को कमजोर करते हैं और साम्राज्यवादी मंसूबों का चाहे-अनचाहे हथकंडा बन जाते हैं।

सुमन
लो क सं घ र्ष !
Share this article :

+ पाठकों के सुझाव और विचार + 1 पाठकों के सुझाव और विचार

एक टिप्पणी भेजें

हिमधारा हिमाचल प्रदेश के शौकिया और अव्‍यवसायिक ब्‍लोगर्स की अभिव्‍याक्ति का मंच है।
हिमधारा के पाठक और टिप्पणीकार के रुप में आपका स्वागत है! आपके सुझावों से हमें प्रोत्साहन मिलता है कृपया ध्यान रखें: अपनी राय देते समय किसी प्रकार के अभद्र शब्द, भाषा का प्रयॊग न करें।
हिमधारा में प्रकाशित होने वाली खबरों से हिमधारा का सहमत होना अनिवार्य नहीं है, न ही किसी खबर की जिम्मेदारी लेने के लिए बाध्य हैं।

Materials posted in Himdhara are not moderated, HIMDHARA is not responsible for the views, opinions and content posted by the conrtibutors and readers.